Follow by Email

Sunday, 17 March 2013

किसको चुनें:-वह मारे इक बार, रोज मत मरना यारा-

यारा हत्यारा चुनो, धूर्त लुटेरे दुष्ट |
टेरे माया को सदा, करें बैंक संपुष्ट |


करें बैंक संपुष्ट, बना देंगे भिखमंगा |
मर मर जीना व्यर्थ,  विदेशी
नाचे नंगा |

हत्यारा तो यार, ख़याल रख रहा हमारा |
वह मारे इक बार, रोज मत मरना यारा ||

2 comments:

  1. रास्ट्रीय पीड़ा और यथार्थ वेदना की निर्वस्त्र तस्बीर

    ReplyDelete