Follow by Email

Sunday, 15 July 2012

यूरेका यूँ रेंकता--यूरेका यूँ रेंकता



यूरेका यूँ रेंकता, जैसे खोज नवीन ।
छाप निमंत्रण भेजता, बातें बड़ी महीन ।

बातें बड़ी महीन, गेट पर ताला झूले ।
क्या मजाल तौहीन, कहीं से काया छू ले ।

यही सुरक्षा मन्त्र, स्वयं पर अपना ताला
 घूमें ना सर्वत्र, समय से आये बाला ।।

Barbet's Friendly Alternative to Beware of Dog signs


 



3 comments: